4 Year BEd Course Close Notice: देश भर में 4 वर्षीय बीएड कोर्स होगा बंद! जानिए क्या होगा 2 वर्षीय बीएड कोर्स का? NCTE ने जारी किया नोटिस

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

4 Year BEd Course Close Notice: जैसा की हम जानते है शिक्षक बनने के लिए BEd जरुरी है। लेकिन अब इसमें भी बदलाव देखने को मिलने वाला है। हम आपको बता दे की अब सरकारी कॉलेजों में शिक्षक बनने के लिए बीएड कोर्स मानक नहीं होगा। अब 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड B.Ed कोर्स की जगह ITEP (Integrated Teacher Education Programme) कार्यक्रम करवाया जाएगा।

NCTE जिसका पूरा नाम नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन है जिसने एक नया कोर्स तैयार किया है। इस कोर्स का नाम ITEP यानी की इंटीग्रेटेड टीचर्स एजुकेशन प्रोग्राम है। यह कोर्स बीएड कोर्स को रिप्लेस करेगा।

सरकारी भर्तियों व योजनाओं से जुडी अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - यहाँ क्लिक करें

सब शिक्षक बनने के लिए आपको बीएड के बजाए ITEP कोर्स करना होगा। यह कोर्स 4 साल का रहने वाला है। 5 फरवरी को जारी हुए नोटिस के अनुसार 2024-25 का सत्र पुराने 4 वर्षीय बीएड कोर्स का आखिरी सत्र होगा। पुराने चार वर्षीय एकीकृत बीएड कोर्स चलाने वाले किसी भी इंस्टीट्यूट को 2025-26 सत्र से नये एडमिशन की अनुमति नहीं दी जाएगी।

बताया जा रहा है अगले सेशन से ही ज्यादातर बीएड कॉलेज में ITEP कोर्स करने का विकल्प शुरू हो जाएगा। आप आसानी से इस कोर्स के माध्यम से अपने शिक्षक बनने के सपने को पूरा कर सकते है। आइये जानते है आज के इस आर्टिकल के माध्यम से संबंधित विस्तृत जानकारी, आप हमारे साथ इस आर्टिकल के माध्यम से अंत तक जरूर जुड़े रहे।

टीचर बनने के लिए अब करना होगा ITEP Course

ITEP (Integrated Teacher Education Programme) कोर्स 4 साल का रहने वाला है। इस कोर्स के मदद से आप अपने टीचर बनने के सपने को पूरा कर सकोगे। आप ITEP कोर्स के अंतर्गत BA- BEd, BSc- BEd और BCom- BEd कोर्स आसानी से कर सकोगे हम आपको बता दे की यह कोर्स वर्तमान में चल रहा इंटीग्रेटेड बीएड कोर्स से अलग होगा।

READ THIS-   Agniveer Yojana: यह सरकार देगी अग्निवीरो को 4 साल की नौकरी के बाद परमानेंट जॉब, जाने क्या है ताजा अपडेट

हालांकि इसके लिए अभी तक टीचर भर्ती की योग्यता के लिए 3 साल का ग्रेजुएशन और 2 साल का बीएड कोर्स करना अनिवार्य कर रखा है लेकिन अब ITEP कोर्स के तहत आप 4 साल में शिक्षक भर्ती के लिए अपनी एलिजिबिलिटी पूरी कर पाओगे। यानी की ITEP कोर्स करने से स्टूडेंट का 1 साल भी बच जाएगा।

NTA लेगा एंट्रेंस एग्जाम

जैसा की हमे पता है शिक्षक भर्ती एलिजिबिलिटी कोर्स पूरा करने के लिए हमे इससे पहले एंट्रेंस एग्जाम देना होता है। हम आपको बता दे की ITEP कोर्स के लिए एंट्रेंस टेस्ट नेशनल टेस्ट एजेंसी यानी की NTA लेगा। इसके लिए टेस्ट कंप्यूटर बेस्ड (CBT) होने वाला है।

NCTE जल्द ही एंट्रेंस टेस्ट और एडमिशन की जानकारी अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर जारी करेगा। NCTE का कहना है की इस कोर्स को अगले सेशन से पूर्ण रूप से शुरू किया जा सकता है। अभी इस कोर्स को कुछ सेन्ट्रल और स्टेट यूनिवर्सिटी में पायलट मोड में ऑफर किया जा रहा है।

यह कोर्स नए टीचर को नए स्किल सिस्टम के 4 चरणों यानी फाउंडेशन, प्रिपेटरी, मिडिल और सेकेण्‍डरी (5+3+3+4) के लिए तैयार करेगा। इस कोर्स को करवाने के लिए वे कॉलेज आवेदन कर सकते है जो की ग्रेजुएशन ऑनर की पढ़ाई कराते है। इसके लिए BA, BSC और BCOM में से किसी एक स्ट्रीम की पढ़ाई सुनिश्चित करनी होगी।

इसके बाद ही NCTE इन्हे 4 साल के कोर्स ITEP की मान्यता देगा। अब NCTE की गाइडलाइंस के अनुसार ही कॉलेज को पुराने 4 साल के इंटीग्रेटेड कोर्स को अपग्रेड करना होगा।

क्या होगा 2 वर्षीय बीएड कोर्स का?

एनसीटीई के द्वारा जारी किये गए नोटिस में केवल 4 वर्षीय बीएड कोर्स को बंद करने के आदेश जारी किया गए है 2 वर्षीय बीएड कोर्स के बारे में इस नोटिस में कोई जिक्र नहीं किया गया है। इसलिए 2 वर्ष बीएड कोर्स बंद नहीं होगा। यह आदेश केवल 4 वर्षीय बीएससी बीएड और बीए बीएड कोर्स के लिए जारी हुए है।

READ THIS-   SBI Loan Online Apply: बिना दस्तावेज के सिर्फ 5 मिनट में पाये 500000 रुपया का लोन, यहाँ से करें ऑनलाइन आवेदन

एनसीटीई द्वारा 4 वर्षीय इंटीग्रेटेड कोर्स को लेकर जारी किया गया आधिकारिक नोटिस-यहां से देखें

Join WhatsApp