RPSC Exam: सीएम भजन लाल ने पेपर लीक के मामले को रोकने के लिए ये कदम उठाए

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

राजस्थान में नई सरकार के गठन होने के बाद अब पेपर लिक होने के मामले को न के बराबर बताया जा रहा है। चुनाव से पहले बीजेपी सरकार ने विद्यार्थियों से यह वादा किया था कि हमारी सरकार आने पर ऐसे मामले को रोकने के लिए विशेष जाँच समिति गठित की जाएगी।

प्रदेश में बीजेपी सरकार के आने के बाद अब पेपर लीक माफिया और नकलचियों को लगाम लगाने के लिए कई सारे कड़े इंतजाम किए जा रहे है। भविष्य में पेपर लीक की घटना ना हो इसके लिए भजन लाल सरकार विशेष जाँच कमेटी गठित करने का फैसला लिया था।

सरकारी भर्तियों व योजनाओं से जुडी अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - यहाँ क्लिक करें

आरपीएसई ने 7 जनवरी 2024 को विभिन्न पदों पर भर्ती परिक्षा आयोजित की है इन भर्ती परीक्षाओ में पेपर लीक की घटना को रोकने के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने कई कदम उठाए है।

राजस्थान में राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) ने 7 जनवरी 2024 (रविवार) को असिस्टेंस प्रोफेसर, पुस्तकालयध्यक्ष (लाइब्रेरियन), शारीरिक प्रशिक्षण अनुदेशक (कॉलेज शिक्षा विभाग) पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित की है।

परीक्षाएं सिंगल शिफ्ट में दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक आयोजित की गई। एडमिट कार्ड छात्रों ने आधिकारिक वेबसाइट rpsc.rajasthan.govt.in से डाउनलोड किए गए।

पेपर लीक माफिया पर पेनी नजर

पिछली बार गहलोत सरकार के समय में RPSC के पेपर लीक होने से युवाओं में नाराजगी है लेकिन इस बार भजन लाल सरकार के द्वारा पेपर लीक के मामले को रोकने के लिए पेपर लीक माफिया पर पेनी नजर रखने के लिए कई कदम उठाए जा रहे है।

भजन लाल सरकार चाहती है कि अब पेपर लीक जैसी घटना को खत्म करने के लिए नए कदम उठाए जाए। पेपर लीक के मामले को रोकने के लिए इंटरनेट बन्द किए गए और इसके साथ ही सुरक्षा के पुख्ते इंतजाम किए जा रहे है। भाजपा सरकार ने पेपर लीक मामलो को रोकने के लिए सुरक्षा उपायों और व्यवस्थाओं किया है।

READ THIS-   Shree Annapurna Rasoi Yojana: इंदिरा रसोई योजना का नाम बदलकर किया श्री अन्नपूर्णा रसोई योजना, प्रति थाली अनुदान 17 रुपए से बढ़ाकर किया 22 रुपए
Join WhatsApp