Mukhyamantri Kanyadan Yojana Update: मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का लाभ लेने के लिए यह काम करवाना जरुरी, जाने पूरी खबर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का संचालन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के द्वारा किया जा रहा है। बता दे की इस योजना में आवेदन के लिए अब जन आधार में जरुरी दस्तावेज अपडेट करवाने होंगे।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के आवेदक को अब आधार कार्ड, मूल निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, बैंक खाता, पीपीओ नंबर, 10वीं कक्षा की मार्कशीट, जन्म प्रमाण पत्र, विकलांगता प्रमाण पत्र (यदि हो तो) इत्यादि दस्तावेज जन आधार में अपडेट करवाने अनिवार्य है।

सरकारी भर्तियों व योजनाओं से जुडी अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - यहाँ क्लिक करें

जन आधार में आवश्यक दस्तावेज अपडेट होने पर ही इसमें आवेदन किया जा सकता है। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की सम्पूर्ण अपडेट बताने के साथ ही इस योजना की जानकारी विस्तार से बताने वाले है। आप हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना

सरकार द्वारा बेटियो को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओ का संचालन किया जा रहा है। आर्थिक रूप से कमजोर परिवार की बेटियों को इस योजना से सामाजिक और आर्थिक लाभ सुनिश्चित हो पाया है।

राज्य सरकार की प्रमुख योजनाओ में से एक जिसका नाम मुख्यमंत्री कन्यादान योजना है के तहत राज्य सरकार द्वारा बेटियों के विवाह पर 31 हजार से 51 हजार तक की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है।

READ THIS-   December Kisan Karj Mafi List: केसीसी के किसानों का दिसम्बर माह में सभी कर्ज होगा माफ, यहाँ से देखे लिस्ट में अपना नाम

इस योजना के लिए जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में मॉनिटरिंग समिति गठित की जाती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को अपना आवेदन विवाह की तारीख के 1 माह पूर्व या विवाह की तारीख के 6 माह बाद जिलाधिकारी को प्रस्तुत करना होगा।

इस योजना के तहत परिवार की केवल दो कन्याओं को ही लाभ प्रदान किया जाता है। इस योजना का लाभ 18 वर्ष या इससे अधिक उम्र बालिकाओं का ही आवेदन किया जा सकता है। योजना के कार्यान्वन की समीक्षा जिला स्तर पर की जाती है।

शैक्षणिक योग्यता के आधार पर बालिकाओं को मिलेगी 31 हजार से 51 हजार रुपए की आर्थिक सहायता

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत एससी, एसटी और अल्पसंख्यक वर्ग के बीपीएल परिवारों की बेटियों के विवाह पर शेक्षणिक योग्यता के आधार पर 31000 रुपए से 51000 रुपए की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है। इन तीनों श्रेणियों के अलावा शेष सभी बीपीएल, अंत्योदय, आस्था कार्ड धारक परिवार, आर्थिक दृष्टि से कमजोर विधवा महिलाओ की कन्याओं के विवाह पर 21000 रुपए से 41000 रुपए की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है। वही विशेष योग्यजन कन्याओं के विवाह पर 21000 रूपए से 41000 रुपए की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लाभ और विशेषताए

  • इस योजना के तहत 31 हजार से 51 हजार रुपए तक की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है।
  • इस योजना की शुरुआत राजस्थान सरकार द्वारा की गई।
  • इस योजना के उद्देश्य गरीब परिवारों की कन्याओं के विवाह पर आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध कराना।
  • इस योजना के तहत परिवार की केवल दो कन्याओं को ही लाभ दिया जाता है।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए बालिका की आयु 18 वर्ष से अधिक हो।
  • इस योजना में आवेदन विवाह के 1 माह पूर्व या विवाह के 6 माह पश्चात कर सकते हो।
  • इस योजना के तहत बीपीएल परिवार की कन्याओं, अंत्योदय परिवार की कन्याओं, आस्था कार्ड धारी परिवार की कन्या तथा आर्थिक दृष्टि से ऐसे परिवार जिसमें कोई कमाने वाला व्यक्ति नहीं है एवं विधवा महिलाओं की कन्याओं को विवाह पर आर्थिक सहायता राशि दी जाती है।
READ THIS-   Post Office Scheme: पोस्ट ऑफिस की इस स्किम से समय से डबल होगा पैसा, जबरदस्त रिटर्न, जानिए क्या है यह स्किम और कैसे उठायें लाभ

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की पात्रताए

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास निम्न पात्रताए होनी चाहिए-

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक राजस्थान की मूल निवासी हो।
  • योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष या इससे अधिक हो।
  • बीपीएल कार्ड धारक परिवार की कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाता है।
  • अंत्योदय परिवार की कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाता है।
  • आस्था कार्ड धारी परिवार की कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाता है।
  • विधवा महिला को कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाता है।
  • 25 वर्ष या इससे अधिक उम्र का कोई भी सदस्य परिवार में कमाने वाला नही है तो इस स्थिति में इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • जिनके माता-पिता की मृत्यु हो चुकी है उन कन्याओ को विवाह के लिए आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में आवेदन के लिए निम्न दस्तावेजो की आवश्यकता होगी-

  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • जन आधार कार्ड
  • विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र
  • बीपीएल कार्ड/अंत्योदय कार्ड/आस्था कार्ड
  • विधवा पेंशन का पीपीओ नम्बर
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक पास बुक आदि।

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में आवेदन कैसे करें ?

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में आवेदन के लिए आप निम्न स्टेप को फॉलो कर सकते हो-

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी ई-मित्र पर जाना होगा।
  • आपको योजना की संपूर्ण जानकारी ई-मित्र संचालक को बतानी होगी।
  • संचालक द्वारा आवेदन फॉर्म को खोला जाएगा।
  • आपको आवेदन से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी बतानी होगी।
  • इसके बाद आपको आवश्यक सभी दस्तावेजो को अपलोड के लिए दे देने है।
  • आवेदन पूर्ण होने के बाद आपको रेफरेंस नंबर लेने है।
  • इस नंबर के माध्यम से आप आवेदन का स्टेटस चेक कर सकते हो।
READ THIS-   SBI Loan Online Apply: बिना दस्तावेज के सिर्फ 5 मिनट में पाये 500000 रुपया का लोन, यहाँ से करें ऑनलाइन आवेदन
Join WhatsApp