Govt. School Online Study: राजस्थान के अब इन 6 जिलों के सरकारी स्कूलों में होगी एप्प से पढ़ाई, जानिए पूरी खबर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

आज के समय में ऑनलाइन पढ़ाई अभ्यर्थियो के लिए काफी फायदेमंद साबित हो रही है। ऑनलाइन माध्यम में आसानी से वे अपने डाउट को क्लीयर कर सकते है। बीते कुछ सालों से ऑनलाइन क्लासों से पढ़ाई होने लगी है और इससे अभ्यर्थियों को काफी फायदा हुआ है वे घर बैठे ही अपनी पढ़ाई को पूरी कर सकते है।

प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा अभ्यर्थी या फिर स्कुल और कॉलेज में अध्ययनरत अभ्यर्थी सभी के लिए पढ़ाई और आसान हो गई है। अब सरकारी स्कूलों के बच्चों के लिए भी ऑनलाइन माध्यम में पढ़ाई को बढ़ावा दिया जा रहा है। बता दे की राजस्थान के सरकारी स्कुलो में भी अब एप्प के माध्यम से पढ़ाई हो सकेगी।

सरकारी भर्तियों व योजनाओं से जुडी अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - यहाँ क्लिक करें

जिससे की उनके लिए पढ़ाई ओर आसान हो सकेगी और घर बैठे अपने सेलेब्स को कवर कर सकेंगे। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको संबंधित सम्पूर्ण जानकारी विस्तार से बताने वाले है। आप हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

सरकारी स्कूलों में अब एप्प से होगी ऑनलाइन पढ़ाई

राजस्थान में सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों द्वारा ऑनलाइन स्टडी के लिए अब एप्प का इस्तेमाल किया जा सकेगा। राजस्थान के रोटरी क्लब ने एक नई पहल की शुरुआत की है। बता दे की राजस्थान में उदयपुर सहित 6 जिलो के सरकारी स्कूलों में अब एप्प के माध्यम से भी पढ़ाई हो सकेगी।

READ THIS-   Rajasthan New Govt Third Grade Teacher Transfer: राजस्थान में बन गई नई सरकार, प्रदेश के तृतीय श्रेणी शिक्षकों के तबादले की उम्मीद होगी पूरी? जानिए पूरी अपडेट

इन 6 जिलों के करीब 750 राजकीय महात्मा गांधी विद्यालयों में एप्प के माध्यम से पढ़ाई हो सकेगी। इन विद्यालयो में यह एप्प निःशुल्क दिया जाएगा। इन 6 जिलों के कक्षा 6 से 12 तक के विद्यार्थी अपने मोबाइल या कंप्यूटर से इस एप्प के जरिए गणित, विज्ञान और अंग्रेजी पढ़ सकेंगे। इस सॉफ्टवेयर को मुंबई के इंजीनियरों ने तैयार किया है।

यह सॉफ्टवेयर राजस्थान के सिलेबस के अनुसार तैयार किया गया है। बता दे की इस सॉफ्टवेयर से 6 जिलों में करीब कक्षा 6 से 12 तक के करीब 1.20 लाख विद्यार्थियों को फायदा होगा। उदयपुर के 124 महात्मा गांधी स्कुलो में कक्षा 6 से 12 तक के 20 हजार विद्यार्थियो को फायदा होगा।

इन 6 जिलों के लिए बना यह सॉफ्टवेयर

राजस्थान के उदयपुर, जयपुर, कोटा, पाली, सवाई माधोपुर और सीकर के लिए यह एप्प तैयार किया गया है। इन जिलो के महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों को पहले चरण में यह सॉफ्टवेयर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके बाद अगले चरण में महात्मा गांधी हिंदी माध्यम विद्यालयों को यह सॉफ्टवेयर दिया जाएगा। ये विद्यालय शिक्षको को कमी से भी जूझ रहे है।

ऐसे में अब इन विद्यालयों के विद्यार्थीयों को काफी फायदा होगा। वे अपने घर से ही मोबाइल या लैपटॉप से गणित, अंग्रेजी और विज्ञान जैसे विषयों की पढ़ाई कर सकेंगे। बता दे की उदयपुर के 125 स्कूलों में 150 से भी अधिक विषय शिक्षक कम है। ऐसे में यह सॉफ्टवेयर विद्यार्थियों के लिए काफी फायदेमंद रहेगा। यह पहल रोटरी क्लब प्रांत 3056 की है।

कक्षा 6 से 12वीं तक के स्टूडेंट के लिए यह एप्प होगा फायदेमंद

यह सॉफ्टवेयर भी ठीक उसी तरह काम करेगा जैसे की एक शिक्षक बच्चे को स्कुल में पढ़ाते है। टीचर्स की कमी होने के कारण यह एप्प बच्चो के लिए काफी फायदेमंद साबित होने वाला है। दरअसल, शिक्षको की कमी होने के कारण पूरा सिलेबस कवर कर पाना मुश्किल है। जिसके कारण विद्यार्थियों को नुकसान झेलना पड़ता है।

READ THIS-   LIC Kanyadan Scheme: बेटी के भविष्य के लिए बहुत ही फायदेमंद ये योजना, जानें इसके लाभ

ऐसे में अब इस सॉफ्टवेयर की मदद से विद्यार्थी अपने सेलेब्स को कवर कर सकेंगे। सरकारी स्कूलों में कक्षा 6 से 12 तक के विद्यार्थियों का सिलेबस कवर हो सकेगा। खासकर कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए यह पहल काफी फायेदमंद रहेगी। शिक्षको को कमी से उनका सेलेबस पूरा हो पाना चुनोतिपूर्ण है इसीलिए अब इस एप्प से उनको मदद मिलेगी। यह सॉफ्टवेयर विद्यार्थियों के लिए किसी शिक्षक से कम नही होगा। सॉफ्टवेयर को सेलेब्स के आधार पर ही तैयार किया गया है।

Join WhatsApp