Free Smartphone Update: क्या भजन लाल सरकार महिलाओ को फ्री स्मार्टफोन देगी? जाने पूरी खबर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Channel Join Now

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा शुरू की गई इंदिरा गांधी फ्री स्मार्टफोन योजना जारी रखी जा सकती है। चिरंजीवी योजना की 1 करोड़ 33 लाख लाभार्थियों को फ्री स्मार्टफोन देने थे लेकिन प्रदेश में आचार संहिता लग जाने से प्रथम फेज में केवल आधी से कम महिलाओ को ही लाभ मिल पाया था।

लेकिन अब लोगो के मन में यही सवाल है कि क्या राजस्थान की भजन लाल सरकार इस योजना को जारी रखेगी या बन्द ही रहेगी। स्मार्टफोन देने की पूर्ववर्ती योजना को कुछ बदलाव के साथ जारी रखा जा सकता है। हालांकि योजना को लेकर अभी तक कोई स्पष्ट फैसला नही आया है।

सरकारी भर्तियों व योजनाओं से जुडी अपडेट सबसे पहले पाने के लिए टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें - यहाँ क्लिक करें

सुचना प्रौद्योगिकी मंत्री विधानसभा में इसके भविष्य पर खुलासा कर सकते है। भाजपा और कांग्रेस की महिला नेता इस बात के पक्ष में है कि महिलाओ के लिए इस योजना को जारी रखा जाए। दोनों ही दलों की महिला नेताओ ने कहा कि महिलाओं के हित में यह योजना जारी की जाए।

सरकार चाहे तो इसमें बदलाव कर सकती है। इसकी कमियों को दूर किया जा सकता है । इस योजना के पहले चरण में अशोक गहलोत ने 40 लाख महिलाओ को स्मार्टफोन दिए जाने थे। 9 अकटुम्बर को आचार संहिता लागू हो जाने की वजह से केवल 25 लाख महिलाओ को ही स्मार्टफोन दिए गए थे।

Free Smartphone Update

पहले चरण में चयनित बालिका और महिलाओं को 40 लाख स्मार्टफोन दिए जाने थे, जिसके अंतर्गत इनमें से प्रत्येक महिला को स्मार्टफोन के लिए डीबीटी के माध्यम से 6,125 रुपए दिए गए। गहलोत सरकार ने सभी 1 करोड़ 33 लाख चिरंजीवी परिवारों की महिलाओं को स्मार्टफोन देने की गारंटी दी थी।

READ THIS-   Old Pension Scheme Update: ये सरकारी कर्मचारी और पेंशनर्स NPS से OPS में होंगे शामिल, फाइनल आर्डर 30 नवम्बर तक जारी हो सकेगा

आचार संहिता लागू होने से पहले तक इस योजना के अंतर्गत करीब 25 लाख महिलाओं को स्मार्टफोन के लिए राशि दी गई। सरकार की ओर से इन महिलाओं को करीब 1800 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए गए।

यह बोली महिला नेता

महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे को ध्यान में रखते हुए स्मार्टफोन योजना को जारी रखा जाए। महिलाओं की सुरक्षा को प्राथमिकता दी जाए।

– रक्षा भंडारी, प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा महिला मोर्चा सरकार को अध्ययन कराना चाहिए कि योजना महिलाओं के लिए कितनी उपयोगी रही? इसके अनुसार ही योजना जारी रखने पर निर्णय किया जाए। यह भी देखा जाए कि इस योजना को महिलाओं के हित में कैसे और प्रभावी बनाया जाए।

– अनिता भदेल, भाजपा विधायक और पूर्व मंत्री योजना को जारी रखा जाना चाहिए। स्मार्टफोन से महिलाओं को सरकारी योजनाओं की जानकारी देने का मकसद था। भाजपा सरकार प्रदेश की महिलाओं की स्थिति को और अच्छा बनाए, सरकार में होने के कारण यह उसका दायित्व है।

योजना को जारी रखा जाना चाहिए। स्मार्टफोन से महिलाओं को सरकारी योजनाओं की जानकारी देने का मकसद था। भाजपा सरकार प्रदेश की महिलाओं की स्थिति को और अच्छा बनाए, सरकार में होने के कारण यह उसका दायित्व है।– ममता भूपेश, कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री

स्मार्टफोन महिलाओं के लिए उपयोगी है। सभी बालिकाएं स्मार्टफोन नहीं खरीद सकती। ऐसे में भविष्य की सोच को ध्यान में रखते हुए योजना को जारी रखा जाए। – रेहाना रियाज चिश्ती, अध्यक्ष, राज्य महिला आयोग

Join WhatsApp